Wednesday, April 15, 2009

Delhi-6


ये तस्वीर मेरे हाल ही में खींचे दिल्ली-६ की श्रृंखला में से है. आप पीछे के भाग में जामा मस्जिद को देख सकते हैं. दिन की आखिरी किरण के साथ यह उस दिन की मेरी आखिरी तस्वीर थी I
चांदनी चौक यानी दिल्ली- ६, Portrait, Street और Candid photography के लिए हमेशा ही पहली पसंद रहा है. परन्तु पुरानी दिल्ली की गलियों में तस्वीर खींचना हमेशा ही चुनौती भरा रहता है, गलियां इतनी संकरी हैं कि तस्वीर के लिए सही रौशनी मिलना बहुत मुश्किल होता है और उस पर इतनी भीड़ में सही एंगल का मिल पाना पेरशानी भरा रहता है, लेकिन पुरानी दिल्ली कि तस्वीरों का मुकाबला और कोई जगह नहीं कर सकती शायद यही वजह है कि यह जगह हर फोटोग्राफर की exhibition का हिस्सा बनती है.

उम्मीद है की ये तस्वीर आपको पसंद आएगी. इस चित्र को बड़ा कर के देखने के लिए, कृपया इस पर क्लिक करें.

धन्यवाद सहित
आपका अनुज
मनुज मेहता


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

9 पाठकों का कहना है :

Mired Mirage का कहना है कि -

पसन्द आई। पुरानी दिल्ली लगभग नहीं ही देखी है।
घुघूती बासूती

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -

ऐ मनुज!

बोलती है नज़र तेरी, क्या रहा पीछे कहाँ?

देखती है जुबान लेकिन, क्या 'सलिल' खोया कहाँ?

कोई कुछ उत्तर न देता, चुप्पियाँ खामोश हैं।

होश की बातें करें क्या, होश ख़ुद मदहोश हैं।

-आचार्य संजीव 'सलिल'

- दिव्यनर्मदा.ब्लागस्पाट.कॉम

मनुज मेहता का कहना है कि -

haha haha haha
Wah Wah Aachray ji
bahut khoob
kya baat hai, subah- subah aapne cehre par hansi laa di. bahut bahut shukriya aapka. hehe hehe

manuj mehta

डॉ .अनुराग का कहना है कि -

पसंद आयी..जी

rachana का कहना है कि -

मनुज जी आप जब भी फोटो लेते हैं तो यदि कोई व्यक्ति है तो उस के चेहरे पे इतने भाव कैसे आते है क्या आप उसको कहते है या यूँ ही ?में कब से ये सोच रही हूँ आप के इस फन की दाद देती हूँ
सादर
रचना

मनुज मेहता का कहना है कि -

Rachna ji
dhanyawad is chitr ko pasand karne ke liye.
aapka prashn thoda mushkil hai. haha haha. kisi baithak mein mulakat hui to zaroor bataunga.

thanks and regards
Manuj Mehta

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` का कहना है कि -

Good picture - Subject & back ground both are striking.

neelam का कहना है कि -

पीछे की सीढ़ी देख कर
जहन में यह बात आई की की इबादत गाह की मरम्मत करने वाला यह बन्दा उसके दर पर तो सुबह शाम जरूर जाता होगा ,और कहता भी होगा कि ,
मरम्मत मुक्कदर की कर दो मौला
photo bahut hi achcha hai

dada24 Xu का कहना है कि -

michael kors handbags
louboutin
red bottoms shoes
true religion outlet store
lebron james shoes
converse trainers
red bottoms
pandora uk
coach outlet
oakley sunglasses
2016105caiyan

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)